The ATI News
News Portal

भदोही जिला चिकित्सालय पहुँच कर भड़की डीएम, लगाई फटकार।

0

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

भदोही । आज सुबह अचानक जिलाधिकारी आर्यका अखौरी ने मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा0 लक्ष्मी सिंह के साथ जिला अस्पताल चेतसिंह में बनाए गए कोविड-19 टीकाकरण केंद्र निरीक्षण करने पहुँची। उन्होंने स्थिति का जायजा लिया और व्यवस्था दुरुस्त करने के निर्देश के साथ ही टीकाकरण के लिए आने वाले बुजुर्ग लाभार्थियों की सूची को स्थल के मुख्य गेट पर लगाने का निर्देश दिया।महोदया डीएम ने कहा कि मुख्य गेट पर सूची में नाम का मिलान व आईडी देखने के बाद ही प्रवेश दिया जाए।

आज से फिर यूपी में बच्चे लौटे अपने स्कूलों में, कोविड से बचने का किया गया पूरा बंदोबस्त

एक-एक करके लोगों को वैक्सीनेशन कक्ष में भेजा जाए। और कहा कि इसके पूर्व हैंड सैनिटाइजर करने के बाद टीकाकरण केंद्र में भेजा जाए‌। तथा बुजुर्गो को निगरानी कक्ष में आधा घंटे रखने के बाद उन्हें छोड़ा जाए।

जानिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मिशन शक्ति के दूसरे चरण में महिलाओं को क्या-क्या सौगातें दीं ??

लोगों का उत्साह वर्धन करते हुए कहा कि जरूरत टीकाकरण से डरे नहीं बल्कि बेहिचक लगावाएं और दूसरों को भी प्रेरित करें। जिले में कोविड-19 को लेकर जिलाधिकारी एक बुजुर्ग की शिकायत पर कहा कि बुजुर्गों का हर हाल में ध्यान रखें और उन्हें हर सम्भव सहयोग दिया जाये। तथा उनके टीकाकरण की गति में तेजी लाएं। नियंत्रण कक्ष के माध्यम से सभी पंजीकृत व्यक्तियों से संपर्क कर उनका टीकाकरण कराना सुनिश्चित किया जाए। शिकायत पर कोविड टीकाकरण कार्य में लापरवाही देख डीएम भड़क उठी।

क्या ठाकुर तिलकधारी सिंह के नाम पर होना चाहिए इस मार्ग का नाम

उन्होंने सख्त निर्देश दिए कि टीकाकरण कार्य में किसी भी तरह की लापरवाही किसी भी कीमत पर बर्दाश्त नहीं की जाएगी। इस अवसर पर मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ0 लक्ष्मी सिंह ने कहा कि 50 वर्ष से ऊपर आए लोगों के कोरोना वायरस सही से टीकाकरण करने में सहयोग करें उसके पूर्व जांच तथा आवश्यक प्रबंधन में लापरवाही न करें, और 50 वर्ष से अधिक आयु के लोगों को प्रचार-प्रसार के माध्यम से टीकाकरण के लिए प्रेरित करें। उन्होंने टीकाकरण केंद्र पर हो रही लापरवाही को देख मुख्य चिकित्सा अधीक्षक व फार्मासिस्ट एच.के.त्रिपाठी को जमकर फटकार लगाई।

Leave A Reply

Your email address will not be published.