The ATI News
News Portal

तेज़ बाइक चलाने पर दोस्तों को रोकना-टोकना दो भाइयों को पड़ गया ‌महँगा, गंवानी पड़ी जान

0

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

बिहार। मामला बिहार के जिला मुज़फ़्फ़रपुर का है जहाँ दो सगे भाइयों को अपने‌ दोस्त को रोकना बहुत ही भारी पड़ गया। दरअसल मामला यह है कि बड़ा जगन्नाथ निवासी राजू पासवान के बेटे दीपक और उसके भांजे ने अपने किसी दोस्त राहुल और पंकज को बाइक‌ तेज़ चलाने के कारण भला-बुरा कह दिया था। यह बात उन दोनों के इगो पर लग गई जिसके कारण उन्होंने दीपक व राजा से बदला लेने की ठान ली मगर सामने से सारा मसला सुलझा लिया था‌।

तेज़ बाइक चलाने पर दोस्तों को रोकना-टोकना दो भाइयों को पड़ गया ‌महँगा, गंवानी पड़ी जान

तभी उनकी दोस्ती व भोलेपन का फ़ायदा उठाकर राहुल और पंकज ने उन दोनों को शुक्रवार को अपने घर पर अपनी बर्थडे पार्टी में शामिल होने को कहा। अंजाम से बेख़बर दोनों भाई जब मौके पर पहुँचे तो वहाँ माहौल कुछ और ही था। बर्थडे पार्टी जैसा उनके घर पर कोई भी माहौल था ही नहीं, वहाँ केवल राहुल और पंकज ही मौजूद थे जिन्होंने भाइयों के कत्ल की साज़िश की थी।

वाराणसी : नगरवासियों को कचरे का सही उपयोग करना सिखाया नगर आयुक्त ने

आपसी रंजिश इस कद्र बढ़ी कि उन्होंने भाइयों के हाथ-पाँव बाँधकर उनके गले को तार से घोंट दिया था और पूरे शरीर पर चाकू से घोंपने के निशान बने हुए थे जिससे साफ़ तौर पर यह ज़ाहिर हो रहा था कि बदले की भावना के चलते ही ऐसा कृत्य किया गया है जिससे कि उनकी जान तड़पते हुए निकले।

जिलाधिकारी भदोही ने सराहा एटीआई टीम के कार्यों को

फ़िर दोनों भाइयों की एक ही तरीके से हत्या कर उनके शवों को अलग-अलग एरिया में फेंक दिया। हादसे के बाद घटनास्थल पर पहुँची पुलिस ने साफ़ तौर पर यह आरोप राहुल और पंकज पर लगाते हुए उनकी खोजबीन शुरू कर दी है। साथ ही साथ उनके परिजनों को यह भरोसा दिलाया है कि पुलिस जल्द से जल्द आरोपी राहुल और पंकज को खोज निकालेगी और उन्हें कड़ी से कड़ी सज़ा सुनाई जाएगी। हालांकि अभी दोनों अपने घर से फ़रार हैं और उनके मोबाइल फ़ोन भी बंद जा रहे हैं।

Leave A Reply

Your email address will not be published.