The ATI News
News Portal

बिस्तर गंदा करने पर चाची ने पाँच साल के बच्चे को उतारा मौत के घाट, पिता के साथ मिलकर शव को दफ़नाया

0

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

उत्तर प्रदेश। दिल दहला देने वाला यह मामला यूपी के जिला फर्रुख़ाबाद का है जहाँ एक चाची ने अपने 5 साल के भतीजे को बड़ी ही बेरहमी से पीट-पीटकर मार डाला। उसका गुनाह सिर्फ़ इतना था कि उसने अपना बिस्तर गंदा कर दिया था जो कि चाची को साफ़ करना था और इसी बात से नाराज़ होकर चाची ने बच्चे को पीटना शुरू कर दिया‌। मार न सहन कर पाने के कारण बच्चे ने मौके पर ही दम तोड़ दिया। इतनी घटिया हरकत करने के बाद जब चाची ने देखा कि बच्चा मर गया है तो उसने घबराकर अपने पिता को फ़ोन किया और सारी घटना उन्हें बताई।

ज्ञानपुर विधायक विजय मिश्रा के बेटे के घर मंगलवार को की गई कुर्की, विष्णु कुमार मिश्रा मौके से फ़रार

सारा मामला सुनने के बाद उसके पिता ने शव को काम्पला स्थित उनके मकान पर लाने को कहा और फ़िर पास के एक जंगल में ले जाकर उसे गहरे गढ्ढे में गाड़ दिया। आपको बता दें कि बच्चा पिछले 7 महीने से अपनी चाची के साथ ही पढ़ाई करने के लिए रह रहा था‌ क्योंकि उसकी माँ का एक साल पहले ही देहांत हो गया था और घर पर उसका ख़्याल रखने वाला कोई भी नहीं था‌। मगर कोई नहीं जानता था कि चाची नीरज ही उस अनाथ मासूम की मौत का कारण बन जाएगी।

क्या ठाकुर तिलकधारी सिंह के नाम पर होना चाहिए इस मार्ग का नाम ?

जब परिजनों ने नीरज से पूछा कि बच्चा कहाँ है तो उसने एक कहानी रच डाली कि रविवार को वह मेरे साथ मेले में गया हुआ था लेकिन वहाँ से कहीं लापता हो गया और बहुत ढूँढने पर भी नहीं मिला। पुलिस को घटना की जानकारी मिलते ही मेले का फ़ुटेज खंगाला गया तो पता चला कि ऐसा कोई वाक्या हुआ ही नहीं था। फ़िर बच्चे के पिता बृजेन्द्र ने पुलिस से दरख़्वास्त करते हुए कहा कि जल्द से जल्द उसके बेटे का पता लगाएँ।

आख़िर कौन है यह शख़्स जिसने लाखों रूपयों के नोट जलाकर दूर भगाई ठंडी ??

इस पर पुलिस ने चाची नीरज के साथ सख़्त कार्रवाई करनी शुरू की तो उसने अपना जुर्म कुबूल करते‌ हुए पूरी घटना बताई और पुलिस वालों को उस जगह पर ले गई जहाँ उसने बच्चे के शव को दफ़नाया था। इसके बाद एसपी अशोक कुमार मीणा ने आईपीसी की धारा 320 (हत्या), 201(अपराध के सुबूतों को गायब करने) व 120 बी (आपराधिक साज़िश) के तहत चाची मीणा और उसके पिता राम बहादुर को गिरफ़्तार करके सख़्त से सख़्त कार्रवाई करने का आदेश दिया है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.