जौनपुर के रघुनाथपुर का वह हनुमान मंदिर जिनकी रौनक बच्चों से हैं।

जौनपुर के रघुनाथपुर का वह हनुमान मंदिर जिनकी रौनक बच्चों से हैं।

 

Rana Singh । 30 August 2020

 

 

जौनपुर के रघुनाथपुर का वह हनुमान मंदिर जिनकी रौनक बच्चों से हैं।

जौनपुर। मडि़याहुँ अंतर्गत् रघुनाथपुर में एक अति प्राचीन हनुमान मंदिर है जिसकी रौनक वहाँ के बच्चों से है , हर शाम सुबह मंदिर में चहल पहल रहती है आने जाने की सड़क नहीं है इस मंदिर पर लेकिन नन्हें भक्तों के जेंबों से विद्युत की व्यवस्था हो गई है। एक दूसरे ने चंदे की मदद से वहाँ किसी तरह विद्युत की व्यवस्था की लेकिन जब बात सड़क की आई तो हौसले टूट गए। नेताओं और विभागों के चक्कर काटकर बच्चे थक गए लेकिन सड़क के लिए सीमेंटेड ईंट नसीब नहीं हुए।

महंत अनीश दूबे

जौनपुर के रघुनाथपुर का वह हनुमान मंदिर जिनकी रौनक बच्चों से हैं।यहाँ एक महंत हैं उम्र कही जाए तो लगभग 18 से 20 साल , जो की दैनिक रूप से मंदिर की साफ सफाई करते हैं आर्थिक रूप से कमजोर अनीश बजरंग दल से तालुकात रखते हैं अनीश पर बजरंग दल वाले हमेशा मेहरबान भी रहते हैं इन्हे हर संभव मदद के लिए बजरंग दल के सदस्य हमेशा अग्रसित रहते हैं। महंत अनीश बजरंगबली के इतने प्रचण्ड भक्त हैं कि पूजा करने की सजा भी एक रात जेल काटकर भुगत चुके हैं , नेकदिल अनीश गौसेवा व नरसेवा के लिए हर वक्त तत्पर्य रहते हैं ।

मंगलवार की भक्तिमय शाम

जौनपुर के रघुनाथपुर का वह हनुमान मंदिर जिनकी रौनक बच्चों से हैं।
जौनपुर के रघुनाथपुर का वह हनुमान मंदिर जिनकी रौनक बच्चों से हैं।

रघुनाथपुर के हनुमान मंदिर की मंगलवार की शाम देखने योग्य होती है जहाँ छोटे छोटे बच्चे सुंदरकाण्ड का भक्तिमय पाठ करते हैं , छोटे भक्तों की सुरीली आवाज से पूरा मंदिर प्रांगण में अजीब सी अलौकिक ऊर्जा लोगों को महसूस होने लगती है ।उस वक्त वहाँ से गुजरते लोग सुंदरकाण्ड का भक्तिरस लेने के लिए अपने सारे कार्य पर विराम लगा देते हैं।

बच्चों की समस्या और सरकार से गुहार

चैनल के माध्यम् से सड़क व एक आवास की बच्चे सरकार से माँग करते है , बच्चों का कहना है कि शाम सुंदरकाण्ड के बाद घर जाने में सड़क न होने से डर लगता है , बरसात में पैर फिसल जाता है जिससे की वे चोटिल हो जाते हैं व एक आवास की जरूरत की भी बात कही जहाँ पर महंत अनीश रहकर बजरंगबली की सेवा करना चाहते हैं।

‘ सड़क 2’ ने रिलीज होते ही तोड़ा रिकॉर्ड,बनी अबतक की सबसे खराब रेटिंग वाली फिल्म

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *