The ATI News
News Portal

कोरोना वैक्सीन से वार्ड बॉय की मौत, पोस्टमार्टम रिपोर्ट में खुलासा

0

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद में जिला अस्पताल में वार्ड बॉय की मौत के बाद कोरोना वैक्सीन पर सवाल खड़े हुए हैं। वार्ड बॉय के पद पर तैनात 46 वर्षीय महिपाल सिंह की अचानक तबीयत खराब होने से मौत हो गई। उनके परिवार वालों का महिपाल सिंह की मौत कोरोना वैक्सीन से हुई है। बता दें कि 16 जनवरी को महिपाल सिंह को कोरोना वैक्सीन का टीका लगा था। परिजनों का कहना है कि टीका लगने के बाद ही महिपाल की तबियत खराब हुई थी।वहीं, पोस्टमार्टम रिपोर्ट में मौत की वजह हार्ट अटैक बताई गई है।

Readmore..मनचलों की ख़ैर नहीं…

आपको बता दें कि 16 जनवरी को स्वास्थ्य कर्मी महिपाल सिंह को टीकाकरण के दौरान कोरोना वैक्सीन लगाई गई थी। इसके बाद महिपाल सिंह घर चले गए थे। घर पर अचानक उनकी तबीयत बिगड़ गयी।इसके बाद महिपाल को तुरंत अस्पताल ले जाया गया लेकिन अस्पताल पहुंचने से पहले ही उनकी मौत हो गई।परिवार का आरोप है कि टीका लगाने के पहले महिपाल की मेडिकल जांच भी नहीं की गई थी।

महिपाल की मौत के बाद मुरादाबाद के मुख्य चिकित्सा अधिकारी एससी गर्ग उनके घर पहुंचे. उन्होंने कहा कि महिपाल को सीने में जकड़न और सांस लेने में दिक्कत हो रही थी जिसके बाद उन्हें अस्पताल ले जाया गया था, जहां उनकी मौत हो गई. परिवार के आरोपों पर सीएमओ ने कहा कि शव का पोस्टमॉर्टम करवाया गया है।कुछ लोग यह भ्रम उत्पन्न कर रहे हैं कि मुरादाबाद में वैक्सीन की वजह से किसी की मृत्यु हुई है। मृतक की पोस्टमार्टम में मृत्यु का कारण हार्ट अटैक आया है।इस घटना का वैक्सीन से कोई संबंध नहीं पाया गया है।

सीएमओ ने बताया कि टीकाकरण अभियान के तहत मुरादाबाद के 479 स्वास्थ्य कर्मियों को टीका लगाया गया था और सभी की हालत सही है।महिपाल के परिजनों के मुताबिक उसे पहले से थोड़ा निमोनिया था, जिसका इलाज चल रहा था।

Leave A Reply

Your email address will not be published.