The ATI News
News Portal

जौनपुर के इस जगह सुर्यास्त होने के बाद नहीं गुजर सकती महिलाएँ , शराबी सरेराह कर देते हैं आबरू पर हमला

2

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

जौनपुर के इस जगह सुर्यास्त होने के बाद नहीं गुजर सकती महिलाएँ , शराबी सरेराह कर देते हैं आबरू पर हमला

 

ATI DESK | 28-06-2020

 

जौनपुर के इस जगह सुर्यास्त होने के बाद नहीं गुजर सकती महिलाएँ , शराबी सरेराह कर देते हैं आबरू पर हमला

 

 

जौनपुर– जनपद के थाना जलालपुर के सिरकोनी क्षेत्र के बन्दीपुर गाँव में चलने वाले शराब के ठेकों पर महिलाओं का गुस्सा फूट पड़ा । आए दिन ठेके पर आने वाले शराबियों के छेड़खानी से परेशान होकर महिलाओं ने सरकार और प्रशासन पर आरोप लगाते हुए कहा कि महिला सुरक्षा का सरकार और प्रशासन दिखावा करती है । यहाँ हर शाम महिलाओं को भद्दी भद्दी गालियों से नवाजा जाता है विरोध करने पर घर तक में घुसकर शराबी अश्लिल हरकत करने लगते हैं ।

 

आरोप है की गाली देते हुए दरवाजे पर पेशाब भी करते हैं । बन्दीपुर के महिलाओं के अनुसार सरकार महिलाओं के सुरक्षा का बस दिखावा कर रही है । वहाँ के ग्रामीणों का भी आरोप है कि थाने के मीलीभगत से चलने वाले इस ठेके पर लॉकडाउन तक में शराब बेची गयी , विरोध करने पर थाना खुद फर्जी केस में फँसाने का धमकी देने लगा था । कथित तौर पर उस रास्ते का यह हाॅल है कि वहाँ से महिलाओं और बच्चियों का उस रास्ते से गुजरना शाम को नामुमकिन हो जाता है । इसी क्रम में 27 जून सुबह से महिलाओं ने ठेकों को बन्द करने की जिद्द पर बैठ ग़ई । गाँव के बीडीसी विशाल सिंह कल्लु भी ग्रामीणों का साथ दे रहे हैं ।

 

पुलिस अधिकारीयों को सूचना देने पर थाना जलालपुर से आए पुलिस अधिकारी ठेके पर महिलाओं को सुरक्षा देने की बात कहकर चलते बने , उसके बाद ठेका संचालन फिर से शुरू हो गया । दलित महिलाओं का कहना है कि यदि सरकार हमारी इज्जत और मान सम्मान के लिए ठेका यहाँ से नहीं हटवाया तो हम सब खुद ठेके को आग के हवाले कर देंगे।

 

कैसे शुरू हुआ विरोध ?

 

सालों से चले आ रहे इस ठेकों पर कुछ दिनों पहले शराब पीने से दो लोगों की मृत्यु हो गई । महिलाओं का आरोप था की यदि ठेका संचालकों ने उस व्यक्ति को बचाने का कोशिश किया होता तो वह आदमी नहीं मरता व कुछ दिन पहले ही एक महिला के घर में घुसकर शराबी महिला , बच्चा और उनकी जवान लड़की के सामने अश्लिल हरकत शुरू किया और विरोध करने पर दरवाजे पर पेशाब करते हुए गाली बकते हुए चला गया । जिसके बाद महिलाओं और लड़कियों ने गाँव के चर्चित व्यक्ति व बीडीसी विशाल सिंह कल्लु व विशाल सिंह मोनु से ठेकों को बन्द कराने का निवेदन करने लगी ।

 

जिसपर दोनों भाईयों ने ठेका मालिकों से बात किया तो उनका आरोप है कि ठेका मालिकों ने उनसे बद्तमीजी शुरू कर दी । जिसपर पूरे गाँव के बडे़ , बुढे़ , महिला , बच्चे आकर ठेके को बन्द कराने के जिद्द पर अड़ गए। मौके पर पहुँची प्रशासन ने भी बीच बचाव कर माहौल को शान्त कराया लेकिन इस मामले में महिला सुरक्षा को लेकर कोई मजबूत रास्ता नहीं निकाला गया ।

 

 

 

देखिए आखिर कैसे दिखते थे मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ अपने जवानी के दिनों में

2 Comments
  1. […] जौनपुर के इस जगह सुर्यास्त होने के बाद… […]

Leave A Reply

Your email address will not be published.